खूंटी पूजा के साथ दुर्गा बाड़ी में दुर्गा पूजा की तैयारी शुरू |Preparations for Durga Puja begin

Dhananjay Tiwari
By -
0

पलामू।
बंगिय दुर्गा बाड़ी में रविवार को खूंटी पूजा किया गया. इसी के साथ दुर्गा पूजा की तैयारी शुरू की गई. खूंटी पूजा का प्रारंभ पुरोहित देवी प्रसाद बनर्जी ने की जबकि प्रतिमा बनाने की शुरुआत मूर्तिकार सुकुमार पाल ने किया. दुर्गा बाड़ी ट्रस्ट बोर्ड के सचिव दिवेंदू गुप्ता ने बताया की रथयात्रा के दिन खूंटी पूजा करते हुए दुर्गा पूजा की तैयारी शुरू की जाती है. पुरानी मान्यताओं अनुसार प्राचीन  पूजा मंडपों में धारावाहिक रूप से यह परंपरा चली आ रही थी, दुर्गा बाड़ी में भी इस परंपरा का चलन था, पर कुछ वर्षो से यह बंद हो गया था जिसे फिर से शुरू किया गया है. इस परंपरा को फिर से जीवंत करने के पीछे वर्तमान समय के  युवा वर्ग को इन खोई हुई मान्यताओं से फिर से अवगत कराना है. पूजा की शुरुआत करते हुए पुरोहित ने मंत्रोचारण के साथ धान,गेहूं के फसलों और डंठल की पूजा करते हुए यह देवी दुर्गा को बेटी के रूप में घर आने के लिए आह्वान किया. खूंटी का बांग्ला शब्द 'काठामो' है जिसमें मां विराजमान होती है इसलिए इस परंपरा को बंगला में काठामो पूजा भी कहते हैं. आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की  द्वितीया तिथि में यह पूजा किया जाता है. इस अवसर पर अध्यक्ष देवेश मोइत्रा, देवाशीष सेन, उज्वल सेनगुप्ता, जयंत विश्वास, सव्यसाची भट्टाचार्य, दिलीप साहा, प्रसेनजीत दासगुप्ता, शुभंकर चक्रवर्ती, आशीष दशगुप्ता, परी पाल, प्रिया पाल, बासुदेव गोस्वामी आदि मौजूद थे।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें (0)