water crisis: पेयजल संकट पर अगर जल्द कुछ न ही किया गया तो लगभग शहर पलायन कर जाएगा : आशीष भारद्वाज

Dhananjay Tiwari
By -
0

पलामू। ग्यारहवे दिन के "पानी यात्रा" के क्रम में युवाओं की टीम ने सुरेश सिंह चौक, साधुनगर, श्रीरामपथ, जानकपुरी एरिया में जनजागरण सह हस्ताक्षर अभियान चलाया गया। अभियान का नेतृत्व कर रहे शहर के युवा बोल आशीष भारद्वाज ने कहा कि जलस्तर को संरक्षित करने के लिए शहर के सभी तालाब,आहर, पोखरा को बचाने की आवश्यकता है। हमारे मेदिनीनगर नगर निगम के अन्तर्गत पड़ने वाले लगभग सभी पैराणिक पेयजल संचय श्रौत जैसे आहर, पोखर, तालाब, कुआँ का अतिक्रमण कर लिया गया है जिसके वजह से हमारे यहा आज भीषण पेयजल संकट उत्पन्न हो चुका है । वर्तमान परिपेक्ष्य में जलसंकट झेल रहे शहरवासियों को आने वाले समय में इस बड़ी विपदा से बचाने के लिए अभी से कार्य करना होगा । शासन, प्रशासन से अनुरोध है की जल्द से जल्द ऐसे सभी जलश्रोतों को अतिक्रमणमुक्त करवाये। पौधारोपण व जल सोख्ता के लिए खुद से सचेत रहने की जरुरत है वरना इससे बड़ी विपदा आने को है। श्री भारद्वाज ने बताया कि निगम क्षेत्र में व्याप्त पेयजल संकट आने वाले समय में भयावह रुप लेने वाला है।इस संकट से निपटने के लिए वृहद स्तर पर पौधारोपण व सोख्ता निर्माण कार्य होगा तब जाकर स्थायी समाधान होगा। " पानी यात्रा" के ग्यारहवे दिन भ्रमण के दौरान श्री भारद्वाज ने बताया कि पोखराहा तालाब वहा के  लोगो का जलश्रोत का मुख्य केंद्र है, अभी उस जलश्रोत का उपयोग पलामू मेडिकल कॉलेज अपने पेयजल हेतु कर रहा है, परंतु ना ही उस तालाब का जीर्णोधर करवाया ना गहरीकरन अगर ये हो जाता तो ये जलश्रोत आम जनमानस के लिए भी उपयोग में आता। मैं मेडिकल कॉलेज के कर्ता- धर्ताओं से आग्रह करता हूँ की इस विषय में जल्द और संवेदनशील होकर सोचे वरना मैं पहुँचकर आपको सोचने पर विवश कर दूँगा। आजग्यारहवे दिन के पानी यात्रा में आशा शर्मा, वैजन्ती जी,  नवीन तिवारी, बबलू चावला, मुकेश तिवारी, अजय शुक्ला, साहेब जी नामधारी,राजन पंडित, दीपक प्रसाद,  विकाश कश्यप, अंकित शुक्ला आरंभ, ज्ञानेश तिवारी, मुन्ना दूबे, सोनू पांडेय, दिलीप गिरी, नवनीत मेहता,आकाश विश्वकर्मा,राहुल गुप्ता, नवनीत मेहता, रोशन पाठक, प्रभात सिंह, रिशु दूबे, प्रकाश विश्वकर्मा, संजीत पांडेय,  आकाश चौबे आदि कई लोग उपस्थित रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें (0)