संत मरियम विद्यालय के अंतिम वर्ष के बच्चों के लिए विदाई सह सम्मान समारोह का हुआ आयोजन

प्रतिनिधि, धनंजय तिवारी

लक्ष्य को पाने के लिए अपने आप को तपा देना ही तपस्या है : अविनाश देव

राष्ट्र के भविष्य की बुनियाद होते हैं बच्चें : डॉ आर.के. रंजन

प्रतिनिधि, मेदिनीनगर : रेडमा काली मंदिर समीप देवम इंस्टिट्यूट ऑफ़ एजूकेशन के कांफ्रेंस हॉल में रविवार को संत मरियम विद्यालय के अध्यनरत 12वीं कक्षा के लिए विदाई सह सम्मान समारोह का आयोजन किया गया जहां गरिमामयी उपस्थिती पलामू मेडिकल कॉलेज के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ आर. के. रंजन संत मरियम विद्यालय के चेयरमैन श्री अविनाश देव, चार्टर्ड अकाउंटेंट सपना तुलस्यान विद्यालय के प्रधानाध्यापक श्री कुमार आदर्श, देवम् इंस्टीट्यूट ऑफ़ एजूकेशन के मैनेजिंग डायरेक्टर प्रोफेसर श्री आर.एन.सिंह, गवर्नमेंट इंजीनियरिंग कॉलेज के कंप्यूटर साइंस असिस्टेंट प्रोफेसर पंजित लेंका, सिविल इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के असिस्टेंट प्रोफेसर शिवराज उरांव, प्रवीण दुबे व अन्य संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। विद्यालय के छात्राओं ने भारतीय परंपरा के अनुसार सभी अतिथियों को तिलक लगाकर विद्यालय के चेयरमैन श्री अविनाश देव ने पुष्प गुच्छ व अंग वस्त्र देकर सम्मानित किया। तत्पश्चात इस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद डॉक्टर आर.के.रंजन ने बच्चों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आप इस देश के भविष्य हैं और आपको पूरे लगन के साथ पढ़ाई करके सफलता के शीर्ष तक पहुंचना है ताकि विद्यालय के साथ-साथ जिले का भी नाम रोशन हो सके साथ ही इन्होंने मेडिकल क्षेत्र से जुड़े कई महत्वपूर्ण जानकारी दिए। मौके पर उपस्थित विद्यालय के चेयरमैन श्री देव ने बताया कि राष्ट्र के भविष्य की बुनियाद बच्चें होते हैं। ये उस राष्ट्ररुपी वृक्ष की शाखाएं हैं जो नई पीढ़ी को कार्य, आराधना तथा विद्वता के फल प्रदान करता है। हमारा उद्देश्य न केवल छात्रों को ज्ञान प्रदान करना है, बल्कि उनमें ज्ञान, करुणा और मानवीय भावना भी पैदा करना है। इन्होंने सभी बच्चों को उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की और कहा कि आज ये बच्चे संत मरियम विद्यालय के चमकते सितारे हैं, जल्द ही पूरी दुनिया को अपनी रोशनी से चमकाएंगे। वही सपना तुलसियान ने कमर्शियल कोर्स के जानकारी के साथ-साथ अपने जीवन के प्रेरणादायक बातें बताई। साथ ही मौके पर उपस्थित विद्यालय के प्रधानाध्यापक श्री कुमार आदर्श ने सभी बच्चों के उज्ज्वल भविष्य की कामना कर आशीर्वाद दिया। उन्होंने कहा कि बेहतर शिक्षा ही उज्ज्ल भविष्य की कुंजी है। शिक्षा से सभ्य समाज का निर्माण होता है। साथ ही प्रोफेसर पंजीत लेंका ने कहा कि अब तक आप स्कूल में कंफर्ट जोन में थे आपके विषय भी सीमित थी और साथ ही प्रतिस्पर्धा भी कम थी लेकिन अब आप 12वीं कक्षा से बाहर आ चुके हैं आपका क्षेत्र भी बड़ा हो चुका है और प्रतिद्वंद्विता भी बढ़ चुका है। अब आप जिस पथ पर भी चलेंगे उसका निर्णय आप खुद लेंगे किसी के देखकर नहीं लेंगे। वही शिवराज उरांव ने इंजीनियरिंग क्षेत्र से जुड़े कई महत्वपूर्ण बातों के साथ- साथ कविता व तथ्यों के माध्यम से बच्चों को मोटिवेट करने का काम किया। वही प्रोफेसर आर.एन.सिंह ने बच्चों को खुद के साथ-साथ समाज के उत्थान के लिए भी कार्य करने के लिए प्रेरित किया। अंततः विद्यालय परिवार की ओर से विद्यालय में अध्यनरत 12वीं के बच्चों को सर्टिफिकेट व मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में विद्यालय के सभी शिक्षकों के साथ-साथ कर्मचारी लोगों का भी महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Leave a Reply