20 महीने के Google Boy की गजब मेमोरी देखकर हर कोई हैरान, फटाफट देता है सारे जवाब

उप संपादक, धनंजय तिवारी

नई दिल्ली – आज के समय में जब भी किसी सवाल का जवाब खोजना होता है, तो उसके लिए हम गूगल सर्च इंजन का इस्तेमाल करते हैं. इसलिए जब भी कोई इंसान तेजी से सवालों के जवाब देते हैं, तो कहा है कि इसका दिमाग तो गूगल जैसा है. आज हम आपको ऐसे ही गूगल जैसे दिमाग वाले 20 महीने के बच्चे के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे लोग गूगल बॉय के नाम से जानते हैं.

बच्चे की याददाश्त के हैं सभी कायल


हम बात कर रहे हैं झारखंड के गिरिडीह के Google Boy अंकुश राज (Ankush Raj) की. 20 महीने के इस बच्चे की याददाश्त के सभी कायल हैं. गिरिडीह से इस बाल प्रतिभा ( Giridih Google Boy) को लोग गूगल बॉय, छोटा कौटिल्य जैसे नाम से पुकार रहे हैं. अपनी मां की गोद में बैठकर अंकुश राज सवालों के दनादन जवाब देता है. इस छोटे से बच्चे अंकुश राज की खासियत यह है कि जो इसे एक बार बता दिया जाता है वो इसके दिमाग में छप जाता है और अपनी तोतली जुबान से बोलने लगता है. अंकुश के टैलेंट के कई वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं.

20 महीने के बच्चे को याद है इंग्लिश की पूरी किताब


कमाल की बात ये है कि मात्र 20 महीने के अंकुश को गुड इंग्लिश की पूरी किताब याद है. वो किताब में दिए गए सभी पक्षियों, जानवरों, फूलों और सब्जियों के अंग्रेजी नाम में बिना देर किये फटाफट बताता है. इसके अलावा इस गूगल बॉय को प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक के नाम पता हैं. जिस उम्र में बच्चे अपने माता पिता का नाम भी सही से नहीं बोल पाते उस उम्र में अंकुश हर बात को कंप्यूटर की तरह तुरंत याद कर लेता है.

बच्चे के टैलेंट को निखार रही हैं उसकी मां और दादी


अंकुश के पिता अशोक यादव अपने काम के कारण ओडिशा में रहते हैं. वो एक ट्रक ड्राइवर हैं. वहीं अंकुश की मां निशा भारती एक गृहणी हैं. अंकुश की बातें याद रखने की ये प्रतिभा भले ही ईश्वर की देन हो लेकिन इसे निखारने में इनकी मां निशा भारती और दादी नीलम देवी का अहम योगदान है. अंकुश की मां उसकी पढ़ाई का खास ख्याल रखती हैं. वो उसे कई किताबें लाकर देती हैं. वहीं अंकुश की दादी हर समय कुछ ना कुछ सिखती पढ़ाती रहती हैं. इस गांव का गर्व बन चुके अंकुश को लेकर यहां स्थानीय लोग भी काफी खुश हैं.

Leave a Reply